About Us


Mahakaleshwar

1998 तक सिर्फ 16 वर्ग फीट में सिमटा उदयपुर का करीब 900 वर्ष पुराना रानी रोड स्थित महाकालेश्वर मंदिर विशालता के साथ-साथ स्मार्ट मंदिर बनने जा रहा है। मंदिर के परिक्रमा मार्ग में एक्युप्रेशर टाइल्स लगेंगी। ताकि धर्म-कर्म के साथ आरोग्य में भी वृद्धि कर सकें। यहां अंडर ग्राउंड बिजली और ड्रेनेज सिस्टम आदि तैयार हो रहा है। गर्भ गृह में शिव पंचायत बनेगी। जहां भगवान विष्णु, सूर्य, गणेश और मां दुर्गा को स्थापित किया जाएगा।

सार्वजनिक प्रन्यास मंदिर श्री महाकालेश्वर मंदिर के सचिव चंद्रशेखर दाधीच ने बताया कि मंदिर के ईशान कोण (उत्तर-पूर्व) में नव गृह मंडल बनेगा, जहां कई दशकों बाद फिर से उज्जैन की तरह काल गणना होगी। मुख्य मंदिर की लगभग 45 हजार वर्ग फीट की परिधि में 500 से ज्यादा आकर्षक फव्वारे तैयार हो गए हैं। इनको भव्यता देने के लिए संगमरमर के 32 हंस, 24 हाथी और 8 मोरों की आकृति के फव्वारे भी बनाए जा रहे हैं। शिव गुफा, गृह मंडल स्थान, नक्षत्र वाटिका, नौ कुंडीय यज्ञशाला आदि इसी साल बनकर तैयार होंगे। यहां प्रन्यास के 8 हजार सदस्य हर माह न्यूनतम 100 रुपए मंदिर निर्माण के लिए सहयोग राशि देते आ रहे हैं। इसी में से यह खर्च होगा।


Programs

News

Upcoming Events

Daily Darshan Time

Morning       07:00 AM

Afternoon    12:00 AM

Evening      07:00 AM

 Night           10:30 AM

Media of the day

× How can I help you?